Bhavishy Darshan
वास्तुदोष शान्ति उपाय
वास्तु दोष को दूर करने के लिए सबसे सर्वश्रेष्ठ उपाए है की जगह का अवलोकन किसी योग वास्तु शास्त्राचार्य से अवश्य कराये
यंत्र : संपूर्ण वास्तुपुरुष दोष निवारण यंत्र स्थापित करें एवं रोजाना गुग्गुल धूपबत्ती दिखाए। 
मंत्र : "ॐ वास्तुदेवताभ्यो नमः" मंत्र का 108 बार जाप करें। वास्तुदोष शान्ति होगी।
रूद्राक्ष : 14 मुखी रूद्राक्ष धारण करें।
विसर्जन : नए सूती वस्त्र में जटावाला नारियल बांधकर बहते जल में प्रवाहित करने से सभी वास्तु दोष दूर होते है।
सुझाव : 
  • घर का प्रवेश द्वार यथासम्भव पूर्व या उत्तर दिशा में होना चाहिए। प्रवेश द्वार के समक्ष सीढ़ीयां व रसोई नहीं होनी चाहिए।  
  • भवन में कांटेदार वृक्ष व पेड़ नहीं होने चाहिए न ही दूध वाले पौधे कनेर, आक, कैक्टस, एवं बोंसाई आदि। इनके स्थान पर सुगन्धित एवं खूबसूरत फूलों के पौधे लगायें।
  • घर में युद्ध के चित्र, बन्द घड़ी, टूटे हुए कांच तथा शयन कक्ष में पलंग के सामने दर्पण या ड्रेसिंग टेबल नहीं होनी चाहिए।
  • मुख्य द्वार पर मांगलिक चिह्न जैसे स्वास्तिक, ऊँ आदि अंकित करने के साथ साथ गणपती, लक्ष्ती या कुबेर की प्रतिमा स्थापित करनी चाहिए।
  • घर के मुख्य द्वार पर पाकुआ मिरर लगाएं।  
हवन, यज्ञ: घर में वास्तु शान्ति हवन करायें।
Bhavishy Darshan
Home
YourQuery
Rashiphal
Horoscope
favGems
LalKitab
Matching
Rahukal
Consultation
Chaukaria
Panchang
Gems
BabyName
Asc.Table
Education
TarotCard
Prog.Name
Numerology
About us
DISCLAMER-There are no guarantees that every person using this service will get their desired results for sure. Astrological results depend on a lot of factors and the results may vary from person to person.